की फयादा प्लाजो पा के निकली

562 Views
Feb 28, 2020

डलास दा जपे तू फल सोनिये लागे केसे परी दा स्वारूप सोनिये हो डलास दा जप तू फल सोनिये नी लागे कैसी पारि दा सरूप सोनिये

देखांगे हुस्न की, करुणा पेहले तोड दी शराब वंगु विट्री दा की

जी किशोर चार गबरू हलक पतंग ना फाड़ के पालजो पाके निकली दा (x2)

Na akh mundeya di jhalle tera roop ni Button narm jeha rakhdi salook ni Mundeya di jhalle tera roop ni Utton narm jeha rakhdi salooki जी सुता वली कुड़ीये तू अंत कीर्ति नी तेरी आधुनिक मलेशियन नेहा ली

नखरा ता बिलो तेरा पेहली चोटी ते नी मुंडे पट दे दे पलाजो जाडा पा लीया (x2)

काल दर्शन ते नारसन दे जंपसूट

जीनान वाला मेहाकामा पेया ऐ दर्रेया ट्रेंड करे नंद तेरा कोर्स रक्कने मैनु लगदा डिजाइनिंग द करी

ईशार्यन नाल लौंडी एई परिंदे उदने बोले नखरा नजयज तेरा निखरी दा

जी किशोर चार गबरू हलाक कित्ते न फिदा की पलज्जो पाके निकली दा (x2)

एनी सोहनी बांके तू क्यौं आउनी नी नि फब्दा रंग जेहदा भी तू तूने आनी

दक्कड़ी दिलन नू तू ठग बाँके घुम्मेया ना करे एहि अंग बांके हुंडा शिवजोत नु सनक देखो दा अवे तान नी रहन विच विचित्र

जी किशोर चार गबरू हलाक कित्ते न फिदा की पलज्जो पाके निकली दा (

जीनान वाला मेहाकामा पेया ऐ दर्रेया ट्रेंड करे नंद तेरा कोर्स रक्कने मैनु लगदा डिजाइनिंग द करी

ईशार्यन नाल लौंडी एई परिंदे उदने बोले नखरा नजयज तेरा निखरी दा

जी किशोर चार गबरू हलाक कित्ते न फिदा की पलज्जो पाके निकली दा (x2)

एनी सोहनी बांके तू क्यौं आउनी नी नि फब्दा रंग जेहदा भी तू तूने आनी

दक्कड़ी दिलन नू तू ठग बाँके घुम्मेया ना करे एहि अंग बांके हुंडा शिवजोत नु सनक देखो दा अवे तान नी रहन विच विचित्र

जी किशोर चार गबरू हलाक कित्ते न फिदा की पलज्जो पाके निकली दा (

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *