काश एक दिन आइसा भी आया

152 Views
Feb 23, 2020

काश एक दिन ऐशा भी ऐ वक़्त का पाल पाल तम जेई सामने बस तुम ही रहो और उमर गुज़ार जइये ओओ0 काश इक दिन ऐसा भी आके वक़्त का पल पल झमे प्यार करता है रुके ना पे ये चन्दे सनेसेँ थेर जेई ऊँ ऊँ काश एक दिन काश इक़रा एक दिन। देखकर तुझ सोचकर मेन जो पाल जिया था उसे दिल के पास किस किस को प्यार करूं कुछ कुछ भी होता है में तोह दुनीया सवर जाए ओ 1000 मीत दिल को तुमसे सनम नाज़रीन चुराएं कैसी ये बत्ती पार कीसी मोद पारस मुज पारस मुजसे मुजरा नहीं मिला।आइसा ना हो के दिल मेरा टुटे और बिकर जाए ओओ0 काश एक दिन ऐसा भी ऐ वक़्त का पल पल तम जे पीर रुक रुक ना पेहे चन्ने सहरसे खेर जाए जाए ऊ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *